Sports

एशियाई खेल: रोइंग में भारत को एक स्वर्ण और 2 कांस्य पदक

भारत ने एशियाई खेलों में पहली बार रोइंग में स्वर्ण पदक जीता, वहीं भारत के खाते में दो कांस्य पदक भी आए. भारत के रोवर्स में सेना के जवान शामिल थे, सेना के हार न मानने वाले जज़्बे के दम पर उन्होंने पदक जीतने में कामयाबी पाई.

एशियाई खेलों के छठे दिन भारत को रोइंग में बड़ी कामयाबी मिली. रोअर्स ने एक स्वर्ण और दो कांस्य जीतकर भारत के पदकों की संख्या में इज़ाफा किया. दिन की शुरुआत में पुरुषों की लाइटवेट सिंगल स्कल्स में भारत के दुष्यंत चौहान ने कांस्य पदक जीता.

इसके बाद पुरुषों की लाइटवेट डबल्स स्कल्स में भारत के रोहित कुमार और भगवान सिंह की जोड़ी ने कांस्य पदक जीतने में सफलता पाई. दुष्यंत ने अपना पूरा ज़ोर लगाया और 7 मिनट 18. 76 सेकेंड में दूरी तय करके तीसरा स्थान हासिल किया. आखिरी 500 मीटर में उन्होंने पूरी जान लगा दी, जिसके चलते रेस खत्म होने के तुरंत बाद उन्हें स्ट्रेचर पर ले जाना पड़ा. वे इस कदर थक चुके थे कि मेडल सेरेमनी में सही से खड़े भी नहीं हो पा रहे थे. कुछ देर बाद उनकी तबीयत खराब हो गई और उन्हें तुरंत मेडिकल सेंटर ले जाया गया.

अगले ही इवेंट में भारत को स्वर्णिम कामयाबी हाथ लगी और स्वर्ण सिंह, दत्तू भोनाकल, ओम प्रकाश और सुखमीत सिंह की चौकड़ी ने पुरुषों की क्वाड्रपल स्कल्स का स्वर्ण अपने नाम किया. भारतीय टीम ने फाइनल में 6 मिनट और 17.13 सेकेंड का समय लेकर पहला स्थान हासिल किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाइटवेट डबल्स स्कल्स में पदक जीतने वाले रोहित कुमार और भगवान सिंह को ट्वीट कर बधाई दी है. पीएम ने कहा, “एशियाई खेलों में रोहित कुमार और भगवान सिंह की जोड़ी को पुरुषों की लाइटवेट डबल्स स्कल्स में कांस्य पदक जीतने पर बधाई. उनके शानदार प्रदर्शन ने पूरे देश को बेहद खुश कर दिया है.”

रोइंग में कांस्य पदक जीतने वाले रोहित कुमार और भगवान सिंह को खेल मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर ने भी बधाई दी है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “रोहित कुमार और भगवान सिंह का एशियाई खेलों में पुरुषों की लाइटवेट डबल्स स्कल्स में क्या शानदार प्रदर्शन रहा, मैं उनके बेतरीन प्रदर्शन पर उन्हें बधाई देता हूं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *