Sports

भविष्य में स्पिनरों के सामने भी पहनना होगा हेलमेट

नई दिल्ली । अब बल्लेबाजों को तेज गेंदबाजों के साथ ही स्पिनरों के सामने भी हेलमेट पहना होगा। विश्व क्रिकेट के नियम बनाने वाली शीर्ष संस्था मेरिलबोन क्रिकेट क्लब ने कहा कि सिर की चोट से बचने के लिए बल्लेबाजों को हर तरह के गेंदबाज के सामने हेलमेट पहनना चाहिए। अभी बल्लेबाज केवल तेज गेंदबाजों के सामने ही हेमलेट लगाते हैं। वहीं नियम की बात की जाए तो हेलमेट का नियम हर बोर्ड अपने स्तर पर तय करते हैं। गौरतलब है कि इंग्लैंड में साल 2016 से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मैच में हेलमेट पहनने को अनिवार्य किया गया है पर इस तरह के नियम भारत सहित अधिकतर देशों में लागू नहीं हुए हैं।एमसीसी के हेड ऑफ क्रिकेट जॉन स्टीफेनसन ने कहा कि इस तरह की चीजों में बदलाव की जरूरत है। इससे खिलाड़ियों को घायल होने से बचाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सभी को अलग-अगल तरीके से समझाया जा सकता है और देखना होगा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद इसे कैसे लेती है। साथ ही कहा कि हेलमेट पहनने को उसे अनिवार्य करना चाहिए।
उन्होंने कहा कि मैं इस मुद्दे पर आईसीसी से बात करना चाहूंगा क्योंकि जब आप स्वीप करते हैं और आप ने कैप पहनी है तो गेंद आपके सिर पर लग सकती है। इस क्षेत्र में विचार किये जाने की जरूरत है। टेस्ट क्रिकेट में सभी बल्लेबाजों के लिए हेलमेट अनिवार्य किया जाना चाहिए। आईसीसी को सभी सदस्य देशों को इस पर सहमत करना चाहिए। इस बीच एमसीसी शॉर्ट बॉल को लेकर दुनियाभर में बहस कर रहा है। नियम के अनुसार एक ऊंचाई तक बाउंसर गेंद फेंकने की अनुमति है। इससे ऊंचा फेंकने पर नोबॉल देने का नियम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.