Sports

Ind vs Eng चौथे टेस्ट मैच पर ऑस्ट्रेलियाई टीम की नजर, जानें क्यों करेंगे इंग्लैंड का सपोर्ट

वेलिंगटन। ऑस्ट्रेलिया के सहायक कोच एंड्रयू मैकडोनाल्ड ने कहा है कि उनकी टीम भारत और इंग्लैंड के बीच चौथे टेस्ट को गहरी दिलचस्पी के साथ देखना चाहेगी। साथ ही वह भारत की हार की उम्मीद करेंगे। इंग्लैंड सीरीज के चौथे और अंतिम टेस्ट में भारत को हरा देता है तो ऑस्ट्रेलिया विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल में पहुंच जाएगी। हालांकि, अगर भारत मैच जीतता है या ड्रॉ होता है, तो ऑस्ट्रेलिया की जगह टीम इंडिया फाइनल का टिकट कटा लेगी।

भारत की हार की उम्मीद कर रहे कंगारु
ईएसपीएन क्रिकइंफो ने मैकडॉनल्ड के हवाले से बताया, ‘भारत में चौथे टेस्ट में कंगारुओं को काफी दिलचस्पी होगी। हम उम्मीद करेंगे कि इंग्लिश टीम हमारे फेवर में काम करे। हालांकि इंग्लैंड के लिए यह काफी मुश्किल है। इसमें कोई शक नहीं है कि वहां की पिचें स्पिन के अनुकूल हैं और यही भारत की ताकत है। खैर हम इंग्लैंड के बेहतर प्रदर्शन की कामना करते हैं। चीजें हमारे हाथ से बाहर है, आगे देखना होगा कि क्या होने जा रहा है।’ सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर भी भारत पर इंग्लैंड की जीत की आशा लगाए बैठे हैं। वार्नर ने कहा, ‘क्रिकेट के नजरिए से, हम एक ड्रॉ [सीरीज में] देखना चाहेंगे। यह हमारे लिए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने का सही मौका होगा। अगर ऐसा होता है तो यह एक शानदार परिणाम है।’

कंगारुओं के सामने बड़ी मुश्किल
ऑस्ट्रेलिया के वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में पहुंचने की राह काफी कठिन है। अगर इंग्लिश टीम भारत को चौथे टेस्ट में हरा भी देती है, फिर भी कंगारु शायद फाइनल में न पहुंच पाए। इसकी वजह है ऑस्ट्रेलिया का साउथ अफ्रीका दौरा रद करना। ऑस्ट्रेलियाई न्यूजपेपर सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड की रिपोर्ट के मुताबिक, ‘अगर इंग्लैंड भारत के खिलाफ आखिरी टेस्ट जीत भी जाता है, तो ऑस्ट्रेलिया डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए शायद ही क्वालीफाई कर पाई। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) अब क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) के खिलाफ क्रिकेट साउथ अफ्रीका की (CSA) औपचारिक शिकायत को आगे लाना चाहता है, जिससे कंगारु टीम को झटका लग सकता है।’

आईसीसी कर रही शिकायत की जांच
इस वर्ष की शुरुआत में, ऑस्ट्रेलिया ने कोविड -19 महामारी के कारण दक्षिण अफ्रीका के अपने तीन टेस्ट मैचों के दौरे को स्थगित कर दिया था। इसके परिणामस्वरूप, सीएसए ने आईसीसी के साथ एक औपचारिक शिकायत दर्ज की, जिसमें आस्ट्रेलिया के लिए डब्ल्यूटीसी प्वाॅइंट्स में कटौती की मांग की गई। सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड की एक रिपोर्ट के अनुसार, अगर ICC ऑस्ट्रेलिया के अंक काटने का फैसला करता है, तो उनकी WTC से बाहर हो जाएगी, फिर भले ही इंग्लैंड भारत के खिलाफ अंतिम टेस्ट जीत जाए। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को आईसीसी द्वारा निर्धारित समय सीमा को पूरा करने के लिए इस सप्ताह के अंत तक का समय दिया गया है ताकि यह सूचित किया जा सके कि मामले को अच्छी वार्ता के माध्यम से हल किया जा सकता है या नहीं। अगर ऐसा नहीं होता है, तो यह मामला आईसीसी की विवाद समिति से स्थानांतरित कर दिया जाएगा और यह एक स्वतंत्र पैनल को दिया जाएगा और वे निर्णय लेंगे कि क्या दक्षिण अफ्रीका में श्रृंखला को स्थगित करने के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया अपने अधिकार में था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *