Socity

ओलंपिक में भाग लेने वाले तीसरे भारतीय घुड़सवार होंगे फवाद

टोक्यो ओलिंपिक में इस साल फवाद मिर्जा भारत की ओर उतरने वाले तीसरे घुड़सवार होंगे। इसी के साथ ही दो दशक के कोई भारतीय ओलिंपिक घुड़सवारी इवेंट में अपनी चुनौती पेश करेगा। फवाद से इसी कारण पदक की काफी उम्मीदें भी है। फवाद ने घुड़सवारी में भारत का दो दशक का सूखा खत्म करते हुए ओलिंपिक कोटा हासिल किया है। फवाद पिछले साल नवंबर में यूरोपीय स्तर खत्म होने के बाद दक्षिण पूर्व एशिया, ओसियाना ग्रुप जी के व्यक्तिगत स्पर्धा में शीर्ष रैंकिंग के घुड़सवार रहे थे।
फवाद ने 2018 एशियन गेम्‍स में भारत को 36 साल बाद घुड़सवारी में पदक दिलवाया ‌था। फवाद लिंपिक में हिस्सा लेने वाले तीसरे भारतीय होंगे। उनसे पहले भारत ने दो बार ओलिंपिक के इक्वेस्ट्रियन इवेंट में हिस्सा लिया था। 1996 में विंग कमांडर आईजे लांबा अटलांटा ओलिंपिक और 2000 में इम्तियाज अनीस में सिडनी ओलिंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। फवाद ने ओलिंपिक टिकट हासिल करने में कामयाबी इवेंटिंग इंडिविजुअल इवेंट में हासिल की थी। पिछले साल सितंबर में ही पोलैंड के स्ट्रेजगोम में हुए ओलिंपिक क्वालीफाइंग इवेंट में पहला स्‍थान हासिल किया था।
27 साल के फवाद ने छह क्वालिफाइंग स्पर्धा से कुल 64 अंक बनाए हैं। उन्होंने अपने पहले घोड़े फेर्नहिल फेसटाइम से 34 और दूसरे घोड़े टचिंगवुड से 30 अंक बनाए। फवाद को चीन और थाईलैंड की टीमों के क्वालिफाई करने का इंतजार करना पड़ा। दोनों टीमों ने पिछले साल इटली में क्वालिफाई किया था। अगर इन दोनों ही देशों ने टीम के तौर पर क्वालिफाई नहीं किया होता, तो वे व्यक्तिगत स्‍थान ले लेते और भारतीय घुड़सवार को कोटा नहीं मिल पाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *