political

NIA ने TMC नेता Chhatradhar Mahato को किया गिरफ्तार, CPIM लीडर के Murder Case में कार्रवाई

कोलकाता: नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (NIA) ने तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) नेता और माओ समर्थक छत्रधर महतो को शनिवार को झाड़ग्राम से गिरफ्तार (TMC Leader Chhatradhar Mahato Arrests) कर लिया. छत्रधर महतो को साल 2009 के सीपीआई नेता प्रबीर महतो की हत्या (CPIM Leader Prabir Mahato Murder Case) के मामले में अरेस्ट किया गया है.

NIA के बार-बार समन के बाद भी नहीं हुए थे पेश
एनआईए (NIA) ने 16, 18 और 22 मार्च को टीएमसी (TMC) नेता छत्रधर महतो (Chhatradhar Mahato Arrests) को एजेंसी के सामने पेश होने के लिए समन भेजा था. लेकिन छत्रधर महतो ने बताया कि उन्हें दांत में दर्द है इसलिए वो एजेंसी के सामने पेश नहीं हो सकते. उन्होंने दांत में दर्द की मेडिकल रिपोर्ट भी दिखाई दी थी लेकिन एनआईए उनसे संतुष्ट नहीं थी.

हाई कोर्ट ने दिया छत्रधर महतो की गिरफ्तारी का आदेश
इसके बाद नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (NIA) ने हाई कोर्ट का रूख किया. तब कोर्ट ने आदेश दिया कि अगर छत्रधर महतो एजेंसी के सामने पेश नहीं होते हैं तो उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है.

सीएम ममता बनर्जी के करीबी हैं छत्रधर महतो
गौरतलब है कि हाल ही में टीएमसी नेता छत्रधर महतो को झाड़ग्राम में हुई सीएम ममता बनर्जी की रैली में स्टेज पर उनके साथ देखा गया था. माना जाता है कि छत्रधर महतो मुख्यमंत्री के काफी करीबी हैं. लोक सभा चुनाव 2019 में पार्टी के खराब प्रदर्शन के बाद इस बार विधान सभा चुनाव 2021 में छत्रधर महतो पर टीएमसी के पक्ष में वोट डलवाने की बड़ी जिम्मेदारी थी.
बता दें कि शनिवार को जैसे ही झाड़ग्राम में विधान सभा चुनाव की वोटिंग पूरी हुई वैसे ही एनआईए की 40 लोगों की टीम लालगढ़ में छत्रधर महतो के घर पहुंची और उन्हें गिरफ्तार कर लिया. आज रविवार को एनआईए कोर्ट के सामने छत्रधर महतो को पेश किया जाएगा.

इससे पहले छत्रधर महतो साल 2008 में सालबोनी में किए गए माओवादियों के एक ब्लास्ट में शामिल होने के कारण 10 साल की जेल की सजा काट चुके हैं. यह विस्फोट तत्कालीन मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य और पूर्व केंदीय मंत्री रामविलाम पासवान के काफिले को निशाना बनाकर किया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.