National/International political

हम पाक के लोगों को मेडिकल वीजा देते हैं; मैं अफरीदी को मनोचिकित्सक के पास ले जाऊंगा : गंभीर

गंभीर ने कहा- शाहिद अफरीदी मजाकिया व्यक्ति
अफरीदी के छोटा व्यक्ति बताने पर जावेद मियादाद भी भड़के
नई दिल्ली. शाहिद अफरीदी ने आत्मकथा में कई पूर्व क्रिकेटरों की अलग-अलग बातों को लेकर आलोचना की है। गौतम गंभीर को उन्होंने नकारात्मक सोच वाला व्यक्ति बताया था। अब गौतम ने ट्वीट कर अफरीदी पर पलटवार किया है। टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने एक ट्वीट में कहा, ‘भारत अब भी पाकिस्तानियों को इलाज के लिए मेडिकल वीजा दे रहा है। मैं आपको (शाहिद अफरीदी) यहां के किसी मनोचिकित्सक के पास लेकर चलने के लिए तैयार हूं।’
अफरीदी ने जावेद मियादाद को लेकर भी किताब में अशोभनीय टिप्पणी की है। इसके लिए पाकिस्तानी मीडिया में शाहिद की आलोचना हो रही है।
मजाक कर रहे हैं शाहिद
गंभीर ने ट्वीट में लिखा, ‘शाहिद मजाकिया व्यक्ति हैं। खैर कोई बात नहीं जाने दीजिए, लेकिन मैं यह जरूर कहूंगा कि भारत अब भी पाकिस्तानियों को मेडिकल टूरिज्म का वीजा दे रहा है। आप आइए, मैं खुद आपको किसी मनोचिकित्सक के पास लेकर चलूंगा।’ गौतम और शाहिद अफरीदी के बीच मैदान पर रिश्तों में खटास जगजाहिर है। 2007 में एशिया कप के दौरान गंभीर-अफरीदी भिड़ गए थे। अंपायर ने उन्हें अलग किया था। गौतम दिल्ली में भाजपा के प्रत्याशी भी हैं। वे पाकिस्तान से हर तरह के संबंध तोड़ लेने के समर्थक हैं।
शाहिद ने लिखा- गंभीर के नाम कोई रिकॉर्ड नहीं
अफरीदी ने आत्मकथा ‘गेम चेंजर’ में लिखा, ‘गंभीर और उनका रवैया सबसे बड़ी समस्या थी। उनका कोई व्यक्तित्व नहीं है। क्रिकेट की महानतम योजना में अपना कोई चरित्र नहीं है। उनके पास कोई रिकॉर्ड नहीं है, फिर भी वे बहुत ज्यादा एटिट्यूड रखते हैं। गंभीर खुद को डॉन ब्रेडमैन और जेम्स बॉन्ड का मिश्रण समझते हैं।’ अफरीदी ने यह भी खुलासा किया कि स्लेजिंग के मामले में गौतम उनके पसंदीदा खिलाड़ी थे।
मियादाद छोटे इंसान
अफरीदी की आत्मकथा में पाकिस्तान के महानतम बल्लेबाजों में शुमार जावेद मियादाद को अच्छा क्रिकेटर लेकिन छोटा इंसान बताया गया है। इससे जावेद नाराज हैं। मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘शाहिद एक बार पहले भी मुझसे माफी मांग चुके हैं। अब फिर उन्होंने हरकत की है। उन्होंने मुझ पर कई घटिया इल्जाम लगाए हैं। मेरे बारे में कुछ कहने से पहले वे खुद के गिरेबान में झांक लें तो बेहतर होगा।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.