National/International

फैनी / तूफान से पुरी में हजारों पेड़ और खंभे गिरे; कोलकाता में भी बारिश शुरू, ममता ने 2 दिन तक अपनी सभी सभाएं रद्द कीं

  • कोलकाता में शाम 6 बजे तक विमानों की आवाजाही पर रोक
  • मौसम विभाग ने कहा- ओडिशा से बंगाल होते हुए बांग्लादेश पहुंचेगा फैनी
  • करीब 10 हजार गांव और 52 शहर इस भयानक तूफान के रास्ते में आ सकते हैं

ओडिशा के 15 जिलों से 11 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया
भुवनेश्वर-चक्रवाती तूफान फैनी शुक्रवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे ओडिशा में पुरी के तट से टकराया। इसकी वजह से कई मकानों काे नुकसान पहुंचा है। हजारों पेड़ और बिजली के खंभे गिर गए। निचली बस्तियों में पानी भर गया। जिस वक्त तूफान तट से टकराया, हवा की रफ्तार 175 किमी/घंटे थी। कुछ स्थानों पर यह 200 किमी/घंटे तक पहुंच गई। अब यह बंगाल की ओर बढ़ रहा है। कोलकाता में बारिश शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी दो दिन की सभी चुनावी सभाएं रद्द कर दी हैं।
मौसम विभाग के मुताबिक, यह बंगाल से होता हुआ बांग्लादेश की तरफ बढ़ेगा ऐसे में पश्चिम बंगाल के तटवर्ती इलाकों में भी चेतावनी जारी कर दी गई है। इससे पहले ओडिशा में एहतियात के तौर पर 15 जिलों से 11 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया। यह 20 साल में ओडिशा से टकराने वाला सबसे खतरनाक तूफान है।
इमरजेंसी नंबर
ओडिशा- 06742534177, गृह मंत्रालय- 1938, सिक्युरिटी- 182
अपडेट्स…
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 48 घंटे के लिए अपनी सभी रैलियां रद्द कीं।
कोलकाता में भी फैनी का असर दिखाई देने लगा है। यहां बारिश शुरू हो गई है।
फैनी का मुख्य केंद्र ओडिशा से आगे निकल रहा है।
ओडिशा में तूफान की वजह से बारिश का सिलसिला दोपहर तक जारी रहने का अनुमान है।
मौसम विभाग ने बताया कि फैनी का मुख्य घेरा करीब 25 किलाेमीटर का। इसके असर से 150 से 175 किमी/घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं। कुछ स्थानों पर यह करीब 200 किमी/घंटे तक पहुंच गई।
एनडीआरएफ ने एडवायजरी में कहा- तूफान के बाद क्षतिग्रस्त भवनों में न जाएं। बिजली के खुले तारों को न छुएं। मछुआरे अतिरिक्त बैटरी के साथ रेडियो सेट रखें।
एनडीआरएफ ने प्रभावित क्षेत्रों में राहत-बचाव का काम शुरू किया।
भुवनेश्वर, बेरहामपुर, बालूगांव में फैनी का जबर्दस्त असर, कई पेड़ गिरे।
पुरी के साथ ही राज्य के ज्यादातर तटवर्ती इलाकों में जोरदार बारिश।
फैनी के असर से आंध्रप्रदेश के विशाखापट्टनम में तेज हवाओं के साथ बारिश।

Leave a Reply

Your email address will not be published.