National/International

भारतीय सेना को हिमालय में 32 इंच लंबे पगमार्क मिले, अनुमान- येति के निशान हो सकते हैं

9 अप्रैल को रहस्यमयी पगमार्क मकालु बेस कैंप के पास नजर आए, सेना ने ट्विटर पर पोस्ट कीं तस्वीरें
पौराणिक कथाओं में विशालकाय हिममानव का जिक्र, कहा जाता है कि ये इंसान और वानर की तरह
हिमालय में हिम मानव या येति की मौजूदगी को लेकर सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस
नई दिल्ली. भारतीय सेना को हिमालय में 32 इंच लंबे और 15 इंच चौड़े पदचिह्न मिले हैं। माना जा रहा है कि ये हिममानव या येति के हो सकते हैं, जिनका जिक्र पौराणिक कथाओं में किया जाता रहा है। सेना की ओर से बर्फ पर पदचिह्न की तस्वीरें सोमवार को ट्विटर अकाउंट पर शेयर की गईं। आर्मी के पवर्तारोही दल को ये रहस्यमयी पदचिह्न 9 अप्रैल को मकालू बेस कैम्प के पास नजर आए थे। यह कैम्प 5250 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। पैरों के ये निशान मिलने की जगह नेपास के माकालू वरुण नेशनल पार्क के पास स्थित है।
सेना का कहना है कि टीम के लौटने पर पदचिह्न की तस्वीरों का निरीक्षण किया गया। तस्वीरें ट्विटर पर साझा की गईं ताकि वैज्ञानिक तरीके से इस मुद्दे को उठाया जा सके। दूसरी ओर, आर्मी के तस्वीरें पोस्ट करने के बाद येति के अस्तित्व को लेकर सोशल मीडिया में बहस छिड़ गई है। यूजर्स ने सवाल उठाए कि कहीं यह प्रैंक तो नहीं। सिर्फ पैरों के निशान ही क्यों शेयर किए? कुछ लोगों ने कहा कि शायद भारतीय सेना का ट्विटर अकाउंट हैक हो गया।
भाजपा नेता तरुण विजय ने कहा, हमें सेना पर गर्व है, लेकिन येति को रहस्यमी न कहा जाए, वे हिममानव हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *