National/International

प्रधानमंत्री करेंगे रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज तमिलनाडु में हथियारों और सैन्य उपकरणों की द्विवार्षिक रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। प्रदर्शनी का मुख्य विषय है – रक्षा उत्पादन के केन्‍द्र रूप में उभर रहा भारत। रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने भारतीय कंपनियों से स्वदेश निर्मित रक्षा उत्पादों को बढ़ावा देने को कहा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज चेन्नई में दसवीं रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। डैफ एक्सपो-2018 नामक इस प्रदर्शनी का मुख्य विषय है – रक्षा उत्पादन के केन्‍द्र रूप में उभर रहा भारत। इसमें रक्षा प्रणालियों और उपकरणों के निर्यातक के रूप में भारत की क्षमताओं को प्रदर्शित किया जाएगा। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने निजी क्षेत्र की कंपनियां से भारतीय तकनीक को बढ़ावा देने की अपील की है।

चेन्नई में बुधवार से हुई 10वें डिफेन्स एक्पो की शुरूआतरक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने की एक्पो की शूरुआतप्रदर्शनी में भारत दिखा रहा है अपनी रक्षा क्षमताएंबुधवार को व्यापारिक स्तर की मीटिगों का सिलसिला हुआ शुरूप्रदर्शनी में 670 रक्षा कंपनियां हिस्सा ले रही है54 विदेशी कंपनियां प्रदर्शनी में ले रही है हिस्सा47 देशों के प्रतिनिधिमंडल भी प्रदर्शनी में शामिल

‘भारत: रक्षा निर्माण में उभरता हुआ हब।’ इस थीम के साथ चेन्नई में बुधवार से 10वें डिफेन्स एक्पो की शुरूआत हो गई जिसमें देश विदेश की सैकड़ो कंपनियां हिस्सा ले रही है। एक्सपो में बिजनेस टू बिजनेस सेगमेन्ट की शुरूआत करते हुए रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन ने भारतीय कंपनियों से स्वदेश निर्मित उत्पादों को बढ़ावा दिए जाने को कहा । उन्होंने भारतीय उद्यमियों से ऑटोमोबाइल के क्षेत्र के आलावा अन्य रक्षा क्षेत्र पर भी ध्यान देने की अपील की।

इस डिफेंस एक्सपो में कई रक्षा सौदों पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है। रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत निर्मित मिसाइलों में कई देशों ने दिलचस्पी दिखाई है। अब तक भारत दूसरे देशों से रक्षा उपकरणों का आयात करता रहा है लेकिन अब भारत रक्षा उपकरणों के निर्माण और निर्यात करने में सक्षम है। रक्षा मंत्री ने निजी क्षेत्र की कंपनियां से भारतीय तकनीक को बढ़ावा देने की अपील की, उन्होने कहा कि सरकार रक्षा क्षेत्र में निजी कंपनियों के निवेश को प्रोत्साहित कर रही है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि सेना के जवानों को बुलेट प्रूफ जैकेट से लैस करने के लिए भारी मात्रा में आपूर्ति की जा चुकी है और इस पर कयासबाजी ठीक नहीं है । चेन्नई के पास जिस इलाके में ये डिफेन्स एक्पो हो रही है वहां केन्द्र सरकार डिफ्नेस कॉरीडोर बनाने जा रही है। एक्पो के पहले दिन तमाम कंपनियों ने अपने रक्षा उपकरणों का प्रदर्शन भी किया।

डीआरडीओ और उससे जुड़े लगभग 50 संस्थान इस प्रदर्शनी में अपनी क्षमता का प्रदर्शन कर रहे हैं। इस प्रदर्शनी में 670 रक्षा कंपनियां हिस्सा ले रही है जिसमें 154 विदेशी कंपनियां भी हिस्सा ले रही है। 47 देशो के प्रतिनिधिमंडल भी इसमें हिस्सा ले रहे है। जिसमें अमेरिका, ब्रिट्रेन, रूस, अफगानिस्तान, स्वीडन, फिनलैंड, म्यामार, नेपाल जैसे देश भी शामिल है।भारत के स्वदेश निर्मित तमाम रक्षा उपकरण इसमें प्रदर्शित किए जा रहे हैं इनमें तेजस लडाकू जेट स अर्जुन मार्क 2 टैंक , धनुष आर्टिलरी बंदूकें और अस्त्र मिसाइस जैसे सिसट्म शामिल हैं। 4 दिन चलने बाली इस प्रदर्शनी में गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी पहुंचेगें और औपचारिक रूप से प्रदर्शनी का उद्घाटन करेगें। प्रधानमंत्री प्रदर्शनी में मेक इन इंडिया स्टॉल की शुरूआत भी करेगें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज चेन्नई के अडयार में कैंसर अस्पताल का भी दौरा करेंगे, जहां वे अस्पताल की चार नई इमारतों का उद्घाटन करेंगे। इनमें एक डायमंड जुबली ब्लाक शमिल है, जहां सर्जरी की नई सुविधाओं के साथ मार्डन ब्लड बैंक और ओपीडी की नई सुविधाएं होंगी। इसके अलावा प्रधानमंत्री अडयार कैंसर संस्थान में प्रधानमन्त्री डे केयर सेन्टर और नर्सों के आवास का भी उद्घाटन करेंगे। इन नई इमारतों को बनाने में केंद्र के अलावा कई दानदाताओँ ने भी वित्तीय मदद की है। यह अस्पताल देश का दूसरा सबसे पुराना कैंसर इ्स्टीटयूट है। स्वयं सेवी संगठनों द्वारा चलाए जा रहे इस अस्पताल में करीब 35 फीसदी मरीज़ों का मुफ्त में इलाज किया जाता है। हमारे संवाददाता सुधाकर दास ने इस अस्पताल का जायज़ा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.