National/International

कृषि उन्नति मेला 2018 का सफल आयोजन

भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान द्वारा आयोजित कृषि उन्नति मेला 2018 का आयोजन कल नई दिल्ली के पूसा में किया गया। कृषि उन्नति मेले का आयोजन कृषि व किसान कल्याण मंत्रालय तथा आईसीएआर द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है।

देश के विभिन्न भागों से किसान इस मेले में हिस्सा ले रहे हैं, जहां उनकी प्रतिक्रियाओं पर आधारित खेती के तरीकों को और बेहतर करने के उपाय ढूढ़ें जाएंगे। मेले के तीसरे दिन लोगों को संबोधित करते हुये कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि किसानों और कृषि क्षेत्र के कल्याण के लिए एनडीए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के सकारत्मक परिणाम आने शुरू हो गये है।

तीन दिवसीय कृषि उन्नति मेला में देश के विभिन्न हिस्सों से हजारों की संख्या में प्रगतिशील किसानों ने भाग लिया । मेले में न सिर्फ भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान बल्कि राज्य कृषि विश्वविद्यालयों, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के संस्थानों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और गैर सरकारी संगठनों के लोग ने हिस्सा लिया । मेले के तीसरे दिन लोगों को संबोधित करते हुये कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि किसानों और कृषि क्षेत्र के कल्याण के लिए एनडीए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के सकारत्मक परिणाम आने शुरू हो गये है। कृषि मंत्री नई दिल्ली के पूसा संस्थान में तीन दिनों से चल रहे कृषि उन्नति मेले के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर कृषि मंत्री ने अपने क्षेत्रों में सफलता के नए कीर्तिमान स्थापित करने वाले किसानों को पुरस्कार भी प्रदान किए।

कृषि मंत्री ने कहा कि जो काम 60 सालों में कांग्रेस की सरकार ने नही किया हमने उसे महज 4 साल में करके दिखाया। यह एक ऐसा आयोजन है जहां ना सिर्फ कृषि अनुसंधान संस्थान किसानों को खेती की नई-नई विधियों के बारे में जानकारी देता है बल्कि कृषि उन्नयन के लिए किसानों से भी उनकी राय ली जाती है जो आगे की नीतियाँ तैयार करन के लिए अहम होती हैं। किसानों की आय 2022 तक दोगुनी हो जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *