National/International

राजकोट सहित कई जगह पर 33 EVM में आई खराबी

नयी दिल्ली: गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में दक्षिण और सौराष्ट्र-कच्छ क्षेत्र के 19 जिलों की 89 सीटों पर सुबह आठ बजे से मतदान जारी है. सुबह से ही कई स्थानों पर मतदाताओं की लंबी कतारें हैं. वहीं राजकोट सहित अमरेली, सूरत के वरच्छा आदि कई जगह पर 33 ईवीएम में खराबी आई है.

कुछ जगहों पर ईवीएम खराब होने की खबर भी आई जिसे चुनाव आयोग के अधिकारी ने तकनीकी खराबी बताया. उन्होंने कहा कि दो मशीनों और एक वीवीपैट मशीन को बदला गया है. वहीं राजकोट में 33 ईवीएम में आई खराबी को ठीक किया गया. जिस कारण लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा और काफी देर तक लाइनों में खड़ा रहना पड़ा. हालाकि ईवीएम में आई खराबी को ठीक कर दिया गया है और मतदान जारी है. कांग्रेस नेता अर्जुन मोढवाडिया ने कहा- इस चुनाव में ईवीएम एक मुद्दा है.

गुजरात विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान से एक दिन पहले शुक्रवार को निर्वाचन आयोग ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) से जुड़े संदेहों को दूर करने का प्रयास किया. आयोग ने कहा है कि ईवीएम के किसी भी ‘संभावित दुरुपयोग’ को रोकने के लिए ‘सुरक्षा प्रोटोकॉल, प्रक्रियागत पड़ताल और व्यवस्था का एक विस्तृत ढांचा’ तैयार किया है. आयोग ‘मतदान प्रक्रिया में अधिक पारदर्शिता व विश्वसनीयता’ लाने के लिए पहली बार राज्य के सभी 50128 मतदान केंद्रों पर वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) मशीनों का इस्तेमाल कर रहा है. वीवीपीएटी मशीन में एक पर्ची निकलती है जिस पर उस प्रत्याशी का नाम व उसका चुनाव चिन्ह होता है जिसके पक्ष में वोट दिया गया है. यह एक पारदर्शी खिड़की के जरिए मतदाता की निगाहों के सामने सात सेकेंड तक रहती है.

पहले चरण में जिन जिलों में चुनाव हो रहा है उनमें कच्छ, सुरेन्द्रनगर, राजकोट, मोरबी, जामनगर, देवभूमि-द्वारका, पोरबंदर, गिर-सोमनाथ, जूनागढ़, अमरेली, भावनगर, बोटाद (11 जिले सौराष्ट्र क्षेत्र के) तथा नर्मदा, भरूच, तापी, सूरत, नवसारी, वलसाड, डांग (सातों दक्षिण गुजरात के) शामिल हैं. दूसरे चरण में शेष 14 जिलों की 95 सीटों पर 14 दिसंबर को मतदान होगा. मतगणना 18 दिसंबर को होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.