National/International

आखिर चीन में क्यों बिक रही डोनाल्ड ट्रंप की यह प्रतिमा,धड़ल्ले से खरीद रहे चीनी, मजेदार है वजह

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप फिर चर्चा में हैं। लेकिन इस बार वे अपने उठाए गए किसी कदम या दिए गए किसी बयान को लेकर सुर्खियों में नहीं हैं, बल्कि मामला कुछ और है। दरअसल, चीन के बाजारों में अब ट्रंप की प्रतिमाएं बेची जा रही हैं। इन प्रतिमाओं को बुद्ध के रूप में तैयार किया गया है।

इनसाइडर डॉट कॉम की खबर के मुताबिक, बुद्ध के रूप में ट्रंप की प्रतिमाएं चीन के ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म ताओबाओ पर बेची जा रही हैं। ये प्रतिमाएं ‘अपनी कंपनी को फिर से महान बनाएं’ स्लोगन के साथ ब्रिक्री के लिए रखी गई हैं। फुजियान प्रांत के जियामी में एक फर्नीचर निर्माता द्वारा पांच फीट की चीनी मिट्टी मूर्ति की तस्वीर के साथ पोस्ट साझा किया गया। पोस्ट में लिखा गया कि अगर आप बुद्ध के रूप में पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की एक चीनी मिट्टी की मूर्ति चाहते हैं, तो अब आपके पास इसे खरीदने का मौका है।

मनोरंजन के लिए खरीद रहे लोग
मूर्ति विक्रेता का कहना है कि ज्यादातर लोगों ने इसे सिर्फ अपने मनोरंजन के लिए खरीदा, है। उन्होंने कहा कि ये मूर्तियां लोगों को बेहद पसंद आ रही है और इनकी मांग बढ़ती जा रही है। विक्रेता ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने केवल 100 मूर्तियां तैयार की थीं, लेकिन उन्हें उम्मीद से बहुत ज्यादा ऑर्डर मिले और लगातार मिल रहे हैं।

दो आकारों में उपलब्ध है मूर्ति
विक्रेता के अनुसार, डोनाल्ड ट्रंप की ये चीनी मिट्टी की मूर्तियां दो आकारों में उपलब्ध हैं। इनमें से पहली पांच फीट की है, जिसका मूल्य 153 डॉलर (करीब 11 हजार रुपये) रखा गया है। वहीं दूसरी प्रतिमा का आकार करीब 14 फीट का है और इसकी कीमत 613 डॉलर (करीब 44 हजार रुपये)निर्धारित की गई है। बीजिंग के एक व्यक्ति ली गुओकियांग, जो कि एक छोटी सी फर्म के मालिक हैं, उन्होंने कहा कि वे छोटे आकार की प्रतिमा की प्रतीक्षा कर रहे हैं ताकि उन्हें आसानी से जियामी से जल्द भेज दिया जाए।

लोगों ने दी ऐसी प्रतिक्रियाएं:
ट्रंप की मूर्ति खरीदने के इच्छुक ली ने कहा कि बुद्ध के रूप में डोनाल्ड ट्रंप की प्रतिमा को देखकर मुझे लगा कि यह मेरे कार्यालय में एक बहुत ही हास्यपूर्ण वस्तु के तौर पर रखी जा सकती है। उन्होंने कहा कि मैं ट्रंप की छोटी प्रतिमा की प्रतीक्षा कर रहा हूं, इसका मतलब ये कतई नहीं है कि मैं उनका प्रशंसक हूं। बल्कि इसे इसलिए खरीदना चाहता हूं क्योंकि प्रतिमा में ट्रंप बेहद शांत दिख रहे हैं। यह पूछे जाने पर कि वह प्रतिमा कहां लगाएंगे, ली ने कहा कि उन्होंने अपने कार्यालय के दूसरे तल के बाथरूम के गलियारे के लिए इसके लिए जगह बनाई है। वहीं शंघाई के एक खरीदार ने कहा कि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर प्रतिमा को देख मैंने इसे तुरंत खरीद लिया। ट्रंप अत्यधिक अहंकारी युग के प्रतिनिधि के तौर पर चर्चित हैं और मैं चाहता हूं कि यह प्रतिमा मुझे याद दिलाए कि ट्रंप बिल्कुल मत बनो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.