National/International

अमेरिका ने पाकिस्‍तान-तुर्की को दिया बड़ा झटका, 30 लड़ाकू हेलिकॉप्‍टरों की आपूर्ति पर लगाई रोक

इस्‍लामाबाद,
अमेरिका ने पाकिस्‍तान को बड़ा झटका दिया और तुर्की में बने 30 लड़ाकू हेलिकॉप्‍टरों की आपूर्ति पर रोक लगा दी है। तुर्की के राष्‍ट्रपति के प्रवक्‍ता इब्राहिम कालिन ने सोमवार को कहा कि अमेरिका ने तुर्की के लड़ाकू हेलिकॉप्‍टरों की सप्‍लाइ करने पर रोक लगा दी है। उन्‍होंने कहा कि अब पाकिस्‍तान इन लड़ाकू हेलिकॉप्‍टरों को चीन से खरीद सकता है। ATAK T-129 लड़ाकू हेलिकॉप्‍टर में अमेरिकी इंजन लगे हुए हैं।

दो इंजन वाला और हर मौसम में हमला करने में सक्षम यह हेलिकॉप्‍टर अगुस्‍ता A129 मंगुस्‍ता प्‍लेफॉर्म पर आधारित है। अमेरिकी इंजन लगे होने की वजह से इस हेलिकॉप्‍टर को निर्यात करने से पहले मंजूरी लेना होता है। कालिन ने कहा कि इस रोक से अमेरिकी हितों को और ज्‍यादा नुकसान होगा। इससे पहले तुर्की और पाकिस्‍तान ने वर्ष 2018 में 1.5 अरब डॉलर में तुर्की में बने इन लड़ाकू हेलिकॉप्‍टरों का सौदा किया था।

हेलिकॉप्‍टर रात-दिन दुश्‍मन के इलाके में हमला करने में कारगर
अमेरिका के निर्यात को मंजूरी नहीं देने की वजह से इन हेलिकॉप्‍टरों की आपूर्ति का समय बढ़ गया। कालिन ने कहा कि तुर्की को इसलिए रूसी एस-400 मिसाइल ड‍िफेंस सिस्‍टम को खरीदना पड़ा क्‍योंकि अमेरिका ने अपना पेट्रियाट मिसाइल डिफेंस स‍िस्‍टम उसे ठीक शर्तों पर नहीं दिया था। अमेरिका ने अब तुर्की के एस-400 खरीदने पर उसके खिलाफ प्रतिबंध लगा दिया है।

ATAK T-129 हेलिकॉप्‍टरों की आपूर्ति को रोके जाने से पाकिस्‍तानी सेना को बड़ा झटका लगा है। यह हेलिकॉप्‍टर रात-दिन दुश्‍मन के इलाके में हमला करने के साथ- साथ निगरानी करने के लिए भी काफी कारगर है। तुर्की के यह हेलिकॉप्‍टर नहीं देने की सूरत में अब पाकिस्‍तान अपने आका चीन का जेड-10 लड़ाकू हेलिकॉप्‍टर खरीदेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.