National/International

PM मोदी को एक और बड़ा सम्मान, आज मिलेगा वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण लीडरशिप पुरस्कार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को शुक्रवार को यानी आज कैम्ब्रिज एनर्जी रिसर्च एसोसिएट्स वीक (सेरावीक) के वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण लीडरशिप पुरस्कार (CERAWeek Global Energy and Environment Leadership Award) से नवाजा जाएगा. पीएम मोदी को यह सम्मान ऊर्जा और पर्यावरण में स्थिरता के प्रति प्रतिबद्धता के लिए दिया जा रहा है. यह पहली बार है जब इस सम्मलेन का आयोजन पूरी तरह वर्चुअल हो रहा है और पीएम मोदी इस सम्मान समारोह में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए शामिल होंगे, साथ ही वह इस सम्मलेन में मुख्य भाषण देंगे.

इसी के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति के दूत जॉन केरी, बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष और ब्रेकथ्रू एनर्जी के संस्थापक बिल गेट्स और सऊदी अरामको के CEO अमीन नासर भी इस सम्मलेन में भाग लेंगे. कार्यक्रम के आयोजक आइएचएस मार्किट के वाइस चेयरमैन और कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष डेनियल येरगिन ने कहा है कि देश और दुनिया की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए भारत के नेतृत्व में किए जा रहे लगातार प्रयास के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस अवार्ड से सम्मानित करने को लेकर खुशी हो रही है.

डेनियल ने कहा, “आर्थिक विकास, गरीबी में कमी और एक नए ऊर्जा भविष्य की दिशा में भारत वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण के एक केंद्र के रूप में उभरा है. सार्वभौमिक ऊर्जा (Universal Energy) तक पहुंच सुनिश्चित करने और टिकाऊ भविष्य को लेकर जलवायु के उद्देश्यों को पूरा करने के लिए इसका नेतृत्व महत्वपूर्ण है.” इससे पहले भी पीएम मोदी को कई वैश्विक अवार्डों से सम्मानित किया जा चुका है.

हर साल किया जाता है इस सम्मलेन का आयोजन

सेरावीक वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण लीडरशीप पुरस्कार की शुरुआत साल 2016 में हुई थी. सेरावीक की स्थापना डॉक्टर डेनिएल येरगिन ने साल 1983 में की थी, जिसके बाद हर साल मार्च महीने में हृयूस्टन में सेरावीक सम्‍मेलन का आयोजन किया जाता है. इसकी गिनती दुनिया के सबसे आगे रहने वाले ऊर्जा मंचों में की जाती है. इस साल यह आयोजन डिजिटल तरीके से एक मार्च से पांच मार्च तक किया जा रहा है. यह अवार्ड वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण के क्षेत्र में लगातार किए जा रहे प्रयास का नेतृत्व करने के लिए दिया जाता है.

PM मोदी स्वीडिश के प्रधानमंत्री के साथ करेंगे शिखर वार्ता

इसी के साथ PM मोदी आज स्वीडिश के प्रधानमंत्री स्टीफन लोफवेन के साथ डिजिटल माध्यम से शिखर वार्ता भी करने वाले हैं और इस दौरान दोनों नेता द्विपक्षीय संबंधों के सभी आयामों के अलावा क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करेंगे. PMO से जारी एक बयान के मुताबिक दोनों नेता कोरोना महामारी के बाद आपसी सहयोग को मजबूत करने से जुड़े मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे. दोनों नेताओं के बीच साल 2015 के बाद यह पांचवां संवाद होगा. स्वीडन में भी लगभग 75 भारतीय कंपनियां काम कर रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *