Chhattisgarh

नेताओं के बिगड़े बोल; कवासी बोले- खदान मोदी के बाप की नहीं, मंडावी ने कहा-सहायक आयुक्त को जूते मारूंगा

दंतेवाड़ा से भाजपा विधायक मंडावी और कोंटा से कांग्रेस के विधायक लखमा का वीडियो वायरल
दंतेवाड़ा की दो अलग-अलग चुनावी सभा में मंडावी और लखमा के बिगड़े बोल चर्चा में हैं

दंतेवाड़ा. लोकसभा चुनाव के प्रचार-प्रसार में पसीना बहा रहे नेताओं की जुबा से तीखे बोल निकल रहे हैं। रविवार को दंतेवाड़ा में एक चुनावी सभा में भाजपा विधायक भीमा मंडावी ने सहायक आयुक्त को जूते मारने की बात कही। वहीं, सोमवार को दंतेवाड़ा के बालूद की चुनावी सभा में कोंटा से कांग्रेस विधायक और मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि बैलाडीला की खदानें बस्तर की हैं, मोदी के बाप की नहीं हैं।

मंडावी ने खो दिया अपना आपा
विधायक भीमा मंडावी ने गीदम की एक चुनावी सभा में आपा खो दिया। उन्होंने सहायक आयुक्त को कांग्रेस का एजेंट बताया और कहा कि समय मिलेगा तो उसको जूते मारूंगा। आज उसको बता देना। कांग्रेस का एजेंट बनकर यहां हर हॉस्टलों से पचास-पचास हजार रुपए बच्चियों का पैसा ले रहा है। मेरे को 51 हजार रुपए चंदा देना है.. खुलेआम बोल रहा है। आचार संहिता हटने दो। युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं के साथ उसके दफ्तर में जाकर एक-एक पैसे का हिसाब लूंगा। खास बात ये है कि जब वे इस अधिकारी को जूते मारने की बात कह रहे थे, तब आईएएस ओपी चौधरी उनके पास ही खड़े थे।

आबकारी मंत्री की फिसली जुबान
आबकारी मंत्री कवासी लखमा की जुबान से भी बिगड़े बोल निकले। सोमवार को दंतेवाड़ा के बालूद की चुनावी सभा में लखमा ने बैलाडीला की खदानों के निजीकरण के विरोध में बोलना शुरू किया। माेदी सरकार पर खदानों और नगरनार संयंत्र निजी हाथ में देने का आराेप लगाते हुए कहा- 13 नंबर डिपॉजिट अडानी को बेचा गया है, क्या यह खदान मोदी के बाप की है? लखमा आगे बाेले कि भाजपा वाले चौकीदार का टैग लगाकर घूम रहे और सीएम का दामाद घोटाला करके भाग निकला।

Leave a Reply

Your email address will not be published.