Chhattisgarh

कोटा जल संसाधन विभाग के द्वारा बेलगहना चाटा पारा में निर्मित एनीकट निर्माण में हुआ भ्रष्टाचार

बिलासपुर समय दर्शन :- जल संसाधन विभाग बिलासपुर के मुख्य कार्यपालन अभियंता वी के श्रीवास्तव सहित 4 अन्य के खिलाफ हुई एफ आई आर.दर्ज की गई है। मालूम हो की 2016 में ”बेलगहना चाटापारा में बने एनीकट में जमकर भ्रष्टाचार” “निर्माण स्वीकृति डिजाइन बदल कर किया गया घोटाला” के संबंध मे कार्यवाही किया गया है।

मामला कोटा जन संसाधन विभाग के द्वारा बेलगहना चाटा पारा में निर्मित एनीकट निर्माण में हुआ भ्रष्टाचार का है।

मामला तब उजागर हुआ जब जल संसाधन विभाग छत्तीसगढ़ शासन द्वारा उड़न दस्ता दल से जांच दल गठन करने हेतु पत्र क्रमांक 138/17 / 130/स्था/ 2016 दिनांक 06/01/16 के माध्यम से जांच दल गठित किया गया।

जांच दल ने पाया कि मैदानी अमले द्वारा निर्माण कार्य में नियंत्रण एवं पर्यवेक्षण की कमी पाई गई साथ ही साथ ठेकेदार को अनधिकृत लाभ पहुंचाने के लिए निर्माण समिति ने ड्राइंग को भी बदल दिया गया।

जिसके फलस्वरूप दिनांक 01-09-2018 को विजय कुमार श्रीवास्तव आयु 55 वर्ष अधीक्षण अभियंता (वर्तमान में मुख्य कार्यपालन अभियंता) जल संसाधन मंडल बिलासपुर (छ. ग.)।

(2) एस के अवधिया आयु 57 वर्ष मुख्य कार्यपालन अभियंता हसदेव कछार जल संस्थान जल संसाधन मंडल बिलासपुर छत्तीसगढ़।

(3) आर एस नायडू आयु 52 वर्ष कार्यपालन यंत्री कोटा जल संसाधन विभाग बिलासपुर छत्तीसगढ़।

(4) इम्तियाज अली सिद्धकी आयु 55 वर्ष आर ना मालूम अनुविभागीय अधिकारी जल संसाधन विभाग उप संभाग कोटा बिलासपुर छत्तीसगढ़ के विरुद्ध अपराध क्रमांक15/2018 धारा 13 1) डी 13 2) भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 एवं 120b 467 468 471 472 दिनांक 1/9 /2018 को पंजीबद्ध किया गया।सही तरीक़े से जांच कराई जाए तो विजय श्रीवास्तव और एस के अवधिया के खिलाफ और भी भ्रष्टाचार के मामलों का खुलासा हो सकता है।

अजीत सिंह, समय दर्शन 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *