Chhattisgarh

ठगी का एक और बड़ा मामला हुआ उजागर

बिलासपुर:- जबडापारा निवासी बिल्डर मणीशंकर सोनी के खिलाफ ठगी का एक और बड़ा मामला उजागर हुआ है। सोनी ने खमतराई रोड स्थित अशोक नगर में डेढ़ एकड़ जमीन का सौदा कर 50 लोगों से करोड़ों रुपए की ठगी कर ली। पहले जमीन पर फ्लैट बनाकर देने का झांसा देकर 40 लोगों से रुपए ले लिए।

इसके बाद 9 लोगों के नाम पर उसी जमीन की रजिस्ट्री कर दी। कुछ दिनों के बाद उसी जमीन को लगभग 1 करोड़ रुपए में बेचने का एग्रीमेंट कर एक अन्य व्यक्ति से भी 5 लाख रुपए ठग लिया। एसपी के निर्देश पर बिल्डर के खिलाफ धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज कर लिया गया।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार वर्ष 2012-13 में बिल्डर मणीशंकर सोनी अशोक नगर खमतराई रोड पर डेढ़ एकड़ जमीन पर फ्लैट बनाकर बेचने का झांसा देकर 40 लोगों से रुपए ले लिए। फ्लैट 13 लाख रुपए में देने की बात हुई। बिल्डर मणीशंकर की बातों में आकर चिरमिरी, बैकुंठपुर, कोरबा, जांजगीर-चांपा, रायपुर तथा बिलासपुर के 40 लोगों ने 10 लाख से 11 लाख रुपए बिल्डर मणीशंकर को दे दिए।  बिल्डर मणीशंकर सोनी सभी से कहने लगा कि जल्द ही फ्लैट बनाकर देगा। लेकिन 6 वर्ष तक वह लोगों को झांसा ही देता रहा। इसी बीच पता चला कि बिल्डर मणीशंकर ने अशोक नगर की उसी जमीन की रजिस्ट्री 9 दूसरे लोगों को कर दी है। साथ ही यह भी जानकारी मिली कि एक अन्य व्यक्ति से 1 करोड़ रुपए में जमीन बेचने का एग्रीमेंट कर उससे भी 5 लाख रुपए ले लिया है। इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख से की गई।

पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर सिविल लाइन थाना में बिल्डर मणीशंकर सोनी के खिलाफ धारा 420 के तहत धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।
पहले भी मामला दर्ज :- बिल्डर मणीशंकर सोनी ने वर्ष 2010 में मकान बनाकर देने के लिए अनुसूचित जनजाति वर्ग की महिला निर्मला टोप्पो से 7 लाख रुपए लिया था। उस मकान बनाकर नहीं दिया। रुपए भी वापस नहीं करने पर महिला ने अजाक्स थाने में बिल्डर और जमीन बेचने वाले के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने विवेचना के बाद बिल्डर सहित अन्य के खिलाफ 420 एवं एट्रोसिटी एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध किया।

अजीत, समय दर्शन, बिलासपुर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *