Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ की बेटी ने निकाला कैंसर का इलाज, सफल हुए टेस्ट तो मिलेगा कीमोथेरपी का विकल्प

कैंसर जैसी बीमारी हर साल न जाने कितने लोगों की जान निगल लेती है। इसका इलाज बेहद महंगा और दर्दनाक भी होता है। ऐसे में हर कोई इसे सही से करा नहीं पाता और लोगों की जानें जाती रहती हैं, लेकिन हो सकता है कि जल्द कैंसर का इलाज बेहद आसान हो जाए।

दरअसल, छत्तीसगढ़ की एक रीसर्चर ने दावा किया है कि उन्होंने कैंसर का इलाज खोज लिया है जो कीमोथेरपी का विकल्प हो सकता है।

ममता त्रिपाठी के मुताबिक टंग्स्टन, मॉलिब्डनम और कॉपर को एन-एरिल हाइडोजैमिक एसिड मॉलिक्यूल के साथ रियेक्ट किया गया। उन्होंने बताया कि ब्रेस्ट कैंसर सेल्स पर इसके सकारात्मक नतीजे देखे गए। हालांकि, उन्होंने कहा कि अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि यह कीमोथेरपी की दवाइयों की जगह ले सकती है।

हालांकि, शुरुआती दौर में इसकी क्षमता देखने को मिलती है। अगर टेस्ट्स में यह सफल रही तो इसे कम साइडइफेक्ट्स के चलते कीमोथेरपी की जगह इस्तेमाल किया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि उन्हें यह रीसर्च करने में 4-5 साल लग गए। अभी इसका परीक्षण छोटे जानवरों जैसे चूहों पर किया जाएगा। अगर वहां सफलता मिलती है तो बड़े जीवों और फिर इंसानों पर किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *