Chhattisgarh

सिंहदेव बोले- मैंने कभी नहीं कहा मैं सीएम का दावेदार ; भूपेश, महंत, चौबे समेत 13 और योग्य

रायपुर.छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव अभी आठ महीने दूर है और सरकार बनाने से पहले ही कांग्रेस के दिग्गज नेता मुख्यमंत्री पद की आेर अपनी नजरें गड़ाए हुए हैं। हर रोज एक नेता अपनी दावेदारी पेश कर रहा है। चुनाव आते तक यह खींचतान और बढ़ेगी।

दरअसल मामला यह है कि तीन दिन पहले ही नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव का एक बयान जारी हुआ था जिसमें उन्होने कहा था कि मुख्यमंत्री बनने की इच्छा मेरी भी है। मैं भी मुख्यमंत्री बनना चाहता हूं मगर किसी को पीछे करके नहीं। पार्टी सहमति दें तभी मैं मुख्यमंत्री बनूंगा। मुख्यमंत्री बनने के बाद सिर्फ सरगुजा ही नहीं बल्कि पूरे छत्तीसगढ़ का विकास करूंगा।

सोमवार को नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने साफ कहा है कि मैंने कभी ऐसा नहीं कहा कि में सीएम बनना चाहता हूं। हमारे यहां सीएम बनने के लिए 13 से अधिक योग्य चेहरे हैं। हालांकि उन्होंने इस बात से इंकार नहीं किया कि वे इस पद के योग्य नहीं है। उन्होंने कहा कि मेरी बात को दूसरी तरह से पेश किया गया। क्योंकि हर बार बात उठती है तो आपकी पार्टी में सीएम के लिए काेई योग्य चेहरा नहीं है तो मैने कहा था कि हमारे यहां कई योग्य आैर अनुभवी नेता हैं जो इस पद के योग्य हैं। इनमें भूपेश बघेल, चरणदास महंत, रविन्द्र चौबे, धनेन्द्र साहू, सत्यनारायण शर्मा, अमितेष शुक्ल, रामदयाल उइके, रामपुकार सिंह, खेलसाय सिंह इनसे अलावा सीएलपी लीडर का भी नाम रहता है। खोजने पर आैर नाम भी मिल जाएंगे। जब उनसे पूछा गया कि चुनाव के पहले कांग्रेस की आेर से सीएम पद को लेकर बात क्यों उठती तो उन्होंने आरोप लगाया कि यह सब भाजपा प्रोजेक्ट करवाती है। क्योंकि वह कहती है कि हमारे पास सीएम चेहरा रमन हैं कांग्रेस के पास क्या है। इसलिए इस तरह की किसी का नाम सामने लाया जाता है। वैसे भी कांग्रेस कभी सीएम प्रोजेक्ट नहीं करती।

15 साल से सत्ता से दूर है कांग्रेस
जब-जब चुनाव आता है तब-तब कांग्रेस नेताआें का उत्साह चरम पर पहुंच जाता है। इस उत्साह में नेता ऐसा कुछ कह जाते हैं जो दूसरे नेताआें को खटकने लग जाता है। हर बार की तरह इस बार भी मामला सीएम पद को लेकर है। अब जोगी की अनुपस्थिति में कांग्रेस के दूसरे वरिष्ठ नेताआें ने सीएम बनने का सपना संजो लिया है। इनमें टीएस बाबा ने सबसे पहले अपने मन की बात सार्वजनिक मुख्यमंत्री बनने की इच्छा जता दी। सिंहदेव के बयान जारी होते ही सीएम की लाइन में लगे अन्य नेताआें की धड़कनें भी तेज हो गईं। क्योंकि उन्हें पता था कि यदि सिंहदेव के बयान के बाद चुप्पी साध लें तो बाबा का पलड़ा भारी हो जाएगा। इसलिए सिंहदेव के बयान के दो दिन बाद ही पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने सीएम पद की घोषणा आलाकमान करेगी कहकर अपने मन को तसल्ली दे दी।

जब भूपेश ने कहा सीएम तो आलाकमान तय करेगा
वरिष्ठ कांग्रेस नेता आैर नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने सबसे पहले अपने आप को मुख्यमंत्री पद का दावेदार बताकर उन सभी कांग्रेस नेताआें को चौका दिया जो सीएम बनने का सपना संजोए हुए हैं। उनके बयान के दो दिन बाद ही पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने सीएम पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सीएम कौन बनेगा यह तो आलाकमान तय करेगा। हमारी प्राथमिकता अभी सरकार बनाने की है। उल्लेखनीय है कि भूपेश के पिता नंदकुमार बघेल कई बार सार्वजनिक मंचों से कह चुके हैं कि उनके बेटे ही अगले सीएम होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *