Chhattisgarh

कवर्धा : अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर हुआ नारी शक्ति का सम्मान

कवर्धा, 

महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आयोजन भोरमदेव क्लब क्षीरपानी कॉलोनी मे किया गया। कार्यक्रम दोपहर 1: 30 से प्रारंभ हुआ। कार्यक्रम में विभिन्न गतिविधियां खेल-कुद आदि प्रतियोगिता कराया गया। शुरुआत मे कुर्सी दौड जलेबी दौड बलून फुगडी बॉल-बॉल तथा सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता कराया गया, जिसमे प्रतिभागियो द्वारा अपनी खेल क्षमता का प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम में पंडरिया विधायक श्रीमती ममता चंद्राकर उपस्थित थे। अतिथियांे द्वारा दीप प्रज्जवलन कर राजकीय गीत गाया गया। विभिन्न महिला स्व-सहायता के द्वारा बनाए गए विविध पोषण आहार एवं छत्तीसगढी व्यंजन प्रर्दशनी लगाया गया। श्रीमती स्मिता सिंह पर्यवेक्षक ने महिलाओं की स्थिति, विषय पर जानकारी व महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा महिला एवं बालिकाओं के कल्याणकारी योजना के संबंध मे विस्तृत जानकारी दिया।
कार्यक्रम में महिलाओं को उद्बोधित श्रीमती ममता चंद्राकर विधायक पंडरिया, श्रीमती सुशीला भट्ट अध्यक्ष जिला पंचायत,श्रीमती पुष्पा साहु उपाध्यक्ष जिला पंचायत,श्रीमती सावित्री साहू अध्यक्ष नगर पंचायत बोड़ला,श्रीमती इंद्राणी चन्द्रवंशी अध्यक्ष जनपद पंचायत कवर्धा, श्रीमती मन्जू शरद बांग्ले जनपद उपाध्यक्ष स. लोहारा, श्रीमती गंगोत्री योगी, श्रीमतीरानू दुबे, श्रीमतीरोशनी मेरावी, श्रीमती पुष्पा गुप्ता पूर्व अध्यक्ष नगर पालिका कवर्धा, श्रीमतीशेख अनवरी, श्रीमती पद्मनी तिवारी, श्रीमतीतारिनी ठाकुर, श्रीमतीसुमति चंद्राकर, श्रीमती ललिता कुर्रे, श्रीमतीअनिता नेताम, श्रीमती वोमित्रा, श्रीमतीनिर्मला श्रीवास, श्रीमती विमला धुर्वे, श्रीमती सविता यादव, श्रीमतीमिथलेश चंद्राकर, श्रीमती रोशनी मेरावी, श्रीमतीरत्ना काशले श्रीमती, सरस्वती गोयल,श्रीमतीदेवकी साहू,श्रीमतीमंजूलता श्रीवास्तव, श्रीमती दुवशिया चंद्रवंशी, श्रीमतीत्रिवेणी चंद्रवंशी, श्रीमती उन्नपूर्णा चंद्राकर, श्रीमतीतनिशा चैधरी, श्रीमतीसंतोषी चंद्रवंशी, श्रीमती लक्ष्मी संत्यवंशी, सुश्री पूजा टण्डन के द्वारा किया गया।
पंडरिया विधायक श्रीमती ममता चंद्राकर ने अपने उद्बोधन मंे महिलाओ की हर क्षेत्रो में कार्यो की जानकारी देते हुए कहा कि बेटियां घर की लक्ष्मी हि नही बल्की देश की गौरव है समाज में बेटियां आज हर जगह कंधे से कंधा मिलाकर खडी है। महिला परिवार, समाज की ही नही बल्कि पूरे देश के लिए आवश्यक कडी है और महिला सशक्तीकरण एक विवेकपूर्ण प्रक्रिया है। महिला दिवस का औचित्य तब तक प्रमाणित नहीं होता जब तक कि सच्चे अर्थों में महिलाओं की दशा नहीं सुधरती। महिलाओ को अपने हित के लिए जागरुक तथा सशक्त होना आवश्यक है, सशक्तीकरण तो तभी होगा जब महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होंगी और उनमें कुछ करने का आत्मविश्वास जागेगा। यह शुभ संकेत है कि महिलाओं में अधिकारों के प्रति समझ विकसित हुई है। अपनी शक्ति को स्वयं समझकर, जागृति आने से ही महिला घरेलू अत्याचारों से निजात पा रही है। कामकाजी महिलाएं अपने उत्पीड़न से छुटकारा पा रही हैं साथ ही मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा आज से कौशिल्या मातृ योजना की शुभारंभ किए जाने की जानकारी दिये जिसके अंतर्गत दूसरी बेटी के जन्म होने पर उनके परिवार को प्रोत्साहन राशि दिया जायेगा तथा मुख्यमंत्री के संदेश को मंच के माध्यम से उपस्थित लोगो तक पहुंचाया।
मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान अतंर्गत जिले के आंगनबाड़ी केन्द्रों में कुपोषित बच्चों की संख्या शून्य एवं बच्चों के पोषण स्तर सामान्य लाये जाने हेतु उत्कृष्ट कार्य करने वाली एकीकृत बाल विकास सेवा परियोजना कवर्धा की आंगनबाडी कार्यकता श्रीमती कुमारी बाई धुर्वे आंगनबाड़ी केन्द्र बिजाझोरी, श्रीमतीशशीप्रभा साहू आंगनबाड़ी केन्द्र मैनपुरी, श्रीमती नीलू चौबे आंगनबाड़ी केन्द्र मुड़घुसरी, श्रीमती सुरेखा वर्मा आंगनबाड़ी केन्द्र सुखाताल, श्रीमती भक्तिीन बाई आंगनबाड़ी केन्द्र बांझीमौहा, श्रीमतीचंम्पा डाहिरे आंगनबाड़ी केन्द्र खुटू, एकीकृत बाल विकास सेवा परियोजना सहसपुर लोहारा के श्रीमती सरस्वती यादव आंगनबाड़ी केन्द्र बनिया, श्रीमती कुमारी साहू आंगनबाड़ी केन्द्र किनारीटोला, श्रीमतीभुनेश्वरी साहू आंगनबाड़ी केन्द्र सिंगरापारा, श्रीमती वंदना राजपूत आंगनबाड़ी केन्द्र खपरी, एकीकृत बाल विकास सेवा परियोजना कुकदूर के श्रीमती सुखिया आंगनबाड़ी केन्द्र कुईवन, श्रीमती उर्मिला आंगनबाड़ी केन्द्र कुई, श्रीमती संतोषी आंगनबाड़ी केन्द्र कुई को प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया।साथ ही विभिन्न विभागों में कार्यरत महिला 10 अधिकारियों-कर्मचारियों को उनके उत्कृष्ट कार्य तथा कोविड 19 महामरी के समय रोकथाम व जागरुकता हेतु योगदान देने वाले 20 महिलाओं तथा मास्क व सेनेटाईजर वितरण मे 3 महिलाओ एवं समूहो को शैक्षणिक एवं सामाजिक क्षेत्र मे कार्य करने वाले तथा कला के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए 1 महिला को अतिथियो द्वारा प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया। प्रतियोगिता के परिणाम की घोषणा व पुरुस्कार वितरण अतिथियो के द्वारा किया गया।कार्यक्रम मंे महिला एवं बाल विकास विभाग से श्री आनंद कुमार तिवारी जिला कार्यक्रम अधिकारी, श्री सुर्यकांत गुप्ता, जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी, श्रीमती विवेका हैरिश परियेजना अधिकारी कवर्धा, श्री बृजेश कुमार सोनी परियेजना अधिकारी कुण्डा,श्री संदीप पटेल परियेजना अधिकारी बोडला, श्री सत्यानारायण राठौर, जिला बाल संरक्षण अधिकारी, सुश्री नीतिका डडसेना महिला संरक्षण अधिकारी, श्री सत्यमित्र शास्त्री प्रबंधक द.ग्र.अ. श्रीमती सरोज शर्मा, श्रीमती स्मिता सिंह, श्रीमती पायल पाण्डे, श्रीमतीराजकुमारी माग्रे, श्रीमती दिप्ती मरकाम, श्रीमती मानमति मनहर, श्रीमति कांती कुसरे, सुश्री मिलापा श्याम, एवं अन्य पर्यवेक्ष तथा सभी विभागों के अधिकारी, कर्मचारी एवं शहर के गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं, बालिकाएं उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

x Logo: Shield Security
This Site Is Protected By
Shield Security