Chhattisgarh

छापा मारने पहुंची आबकारी टीम पर जानलेवा हमला, जान बचाकर भागे अफसर…

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में शराब तस्करों ने आबकारी टीम पर हमला कर दिया। इसके बाद आबकारी अधिकारियों की ओर से सीपत थाने में FIR दर्ज कराई गई है। जानकारी के मुताबिक, आबकारी विभाग को सूचना मिली थी कि ग्राम भिलमी में अवैध रूप से महुआ शराब बनाने की सूचना मिली थी। इस पर अफसरों ने कंट्रोल रूम की टीम के साथ बुधवार को आरोपी सुमित वर्मा के मकान में छापा मारा। वहां से टीम ने 85 लीटर हाथ-भट्टी में बनी महुआ शराब बरामद की। हालांकि अफसरों का कहना है कि सूचना मिलने के बाद माल नष्ट किए जाने की आशंका से जल्दबाजी के चलते बिना तलाशी वारंट के ही छापा मारने की कार्रवाई की गई।

अफसरों का आरोप है कि कार्रवाई के दौरान आरोपी सुमित वर्मा ने आसपास की महिलाओं को आवाज देकर बुला लिया। गिरफ्तारी से बचने के लिए आरोपी ने महिलाओं को उकसाया और टीम के साथ गाली-गलौज करते हुए हाथापाई शुरू कर दी। आरोप है कि इस पर अनुराधा सुर्यवंशी, जीतु वर्मा, सीमा वर्मा, अंजनी वर्मा, दिव्यानी वर्मा, सुनिता वर्मा ने भी उसका साथ दिया। महिलाओं ने पत्थर से हमला कर दिया और गाड़यों में तोड़फोड़ शुरू कर दी।

इसके चलते गाड़ी के पीछे का ग्लास, बैक लाइट, स्पाइरल, साइड मिरर टूट गया। पीछे का दरवाजा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। वहीं आरोपी सुमित ने टीम पर लाठी से हमले का प्रयास किया और आबकारी निरीक्षक का कॉलर पकड़ उससे मारपीट करने लगा। यह भी आरोप है कि सुमित वर्मा ने उन्हें धमकी दी कि वे उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकते हैं। उनको मारकर यहीं दफना देगा। अफसरों की टीम पर पुलिस ने मुख्य आरोपी सुमित वर्मा को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।