Business

ऑटो / रतन टाटा ने ओला के इलेक्ट्रिक व्हीकल बिजनेस में निवेश किया, कंपनी 400 करोड़ रु. पहले ही जुटा चुकी

  • ओला इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने रतन टाटा के निवेश की रकम का खुलासा नहीं किया
  • कंपनी का लक्ष्य- 2021 तक 10 लाख इलेक्ट्रिक वाहन तैयार करना
  • रतन टाटा ने कहा- इलेक्ट्रिक व्हीकल ईकोसिस्टम तेजी से विकास कर रहा
    नई दिल्ली. टाटा सन्स के चेयरमैन एमेरिटस रतन टाटा ने ओला के इलेक्ट्रिक व्हीकल बिजनेस ओला इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में निवेश किया है। ओला ने सोमवार को यह जानकारी दी। निवेश की रकम का खुलासा नहीं किया गया है। टाटा ओला की पेरेंट कंपनी एएनआई टेक्नोलॉजी के शुरुआती निवेशकों में भी शामिल हैं।
    इलेक्ट्रिक व्हीकल की ग्रोथ में ओला की अहम भूमिका होगी: टाटा
    रतन टाटा के निवेश से पहले ओला इलेक्ट्रिक मोबिलिटी पहले राउंड में 400 करोड़ रुपए का निवेश जुटा चुकी है। इसके इन्वेस्टर्स में टाइगर ग्लोबल और मेट्रिक्स इंडिया भी शामिल हैं। कंपनी ने पिछले साल मिशन इलेक्ट्रिक का ऐलान किया था। इसका मकसद 2021 तक 10 लाख इलेक्ट्रिक वाहन तैयार करना है। फिलहाल कंपनी चार्जिंग सॉल्यूसंश, बैटरी स्वैपिंग स्टेशन और टू-थी-फोर व्हीलर सेगमेंट में वाहन तैयार करने पर काम कर रही है।
    टाटा ने कहा है कि इलेक्ट्रिक व्हीकल ईकोसिस्टम तेजी से विकास कर रहा है। मुझे भरोसा है कि इसकी ग्रोथ और डेवलपमेंट में ओला इलेक्ट्रिक की अहम भूमिका होगी। मैंने भाविश अग्रवाल के नजरिए की हमेशा तारीफ की है और मुझे यकीन है कि नए कारोबारी क्षेत्र में निवेश का कदम अहम साबित होगा।
    ओला के को-फाउंडर और सीईओ भाविश अग्रवाल ने कहा है कि ओला को आगे बढ़ाने में रतन टाटा प्रेरणा स्त्रोत और निजी तौर पर अनुभवी सलाहकार रहे हैं। सतत परिवहन आसान बनाने के मिशन में बतौर निवेशक और सलाहकार रतन टाटा के ओला इलेक्ट्रिक के बोर्ड में शामिल होने पर मैं बेहद उत्साहित हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.