Business

फोर्ड डीजल कारों की बिक्री बंद नहीं करेगी, कहा- बीएस-6 नॉर्म्स के लिए तैयार हैं

फोर्ड ने कहा- ईकोस्पोर्ट के 65% ग्राहक डीजल वैरिएंट खरीदते हैं
1 अप्रैल 2020 से बीएस-6 नॉर्म्स लागू होंगे, मारुति डीजल कारें नहीं बेचेगी
नई दिल्ली. अमेरिकी कार कंपनी फोर्ड भारत में डीजल गाड़ियों की बिक्री जारी रखेगी। फोर्ड इंडिया के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर (मार्केटिंग, सेल्स, सर्विस) विनय रैना का कहना है कि कंपनी 1 अप्रैल 2020 की तय डेडलाइन तक बीएस-6 प्रदूषण मानक भी पूरे कर लेगी। फोर्ड भारत में ईकोस्पोर्ट और एंडीवर जैसी कारें बेचती है।
डीजल वैरिएंट कारों की मांग बढ़ेगी: फोर्ड
रैना ने कहा कि डीजल वैरिएंट वाले वाहन लंबे समय से ग्राहकों की पसंद रहे हैं। ईकोस्पोर्ट के 65% ग्राहक डीजल वैरिएंट ही लेते हैं। सरकार डीजल वाहनों पर सब्सिडी खत्म कर रही है फिर भी इनकी मांग बढ़ रही है। यह आगे भी जारी रहने की उम्मीद है।
रैना का कहना है कि बीएस-6 नॉर्म्स लागू होने पर पैसेंसर व्हीकल्स की कीमतें 8-10% बढ़ने के आसार हैं। लेकिन यह बढ़ोतरी सिर्फ डीजल गाड़ियों पर नहीं बल्कि सभी तरह के वाहनों पर होगी।
बीएस-6 नॉर्म्स लागू होने पर डीजल गाड़ियां महंगी हो जाएंगी। इसलिए प्रमुख ऑटो कंपनियां यह विचार कर रही हैं कि इनकी बिक्री जारी रखी जाए या नहीं। मारुति पिछले हफ्ते ऐलान कर चुकी है कि वह 1 अप्रैल 2020 से डीजल कारें नहीं बेचेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *