Business

हाईकोर्ट / माल्या ने कहा- मुझे भगोड़ा घोषित करना आर्थिक मृत्यु दंड देने जैसा

विशेष अदालत ने विजय माल्या को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया था
माल्या के वकील ने कहा- संपत्ति को कुर्क किए जाने के खिलाफ कोर्ट कोई आदेश दे
मुंबई. शराब व्यापारी विजय माल्या ने बॉम्बे हाईकोर्ट से बुधवार को कहा कि मुझे भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करना, मुझे आर्थिक तौर पर मृत्यु दंड देने के समान है। माल्या के वकील अमित देसाई ने जस्टिस रंजीत मोरे और भारती डांगरे की बेंच के सामने यह बात रखी। हालांकि बेंच ने किसी तरह की राहत देने से इनकार किया।
विशेष अदालत ने माल्या को भगोड़ा घोषित किया
वकील देसाई ने याचिका के जरिए कोर्ट से अपील की कि देशभर में माल्या की संपत्ति को कुर्क करने के खिलाफ आदेश दे। पिछले साल अगस्त में विशेष अदालत ने माल्या को भगोड़ा आर्थिक अपराधी कानून के अंतर्गत दोषी पाया था।

माल्या ने कहा- मेरी संपत्ति पर मेरा नियंत्रण नहीं
माल्या ने कहा, ‘‘मेरा कर्ज और ब्याज लगातार बढ़ रहा है। इस कर्ज को चुकाने के लिए जो संपत्ति मेरे पास है, सरकार उसका उपयोग करने की अनुमति नहीं दे रही है। मेरी संपत्ति पर मेरा नियंत्रण नहीं है। यह बिल्कुल ऐसा है जैसे मुझे आर्थिक मृत्यु दंड दिया गया है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.