Business

एस्सेल प्रोपैक की कंट्रोलिंग हिस्सेदारी 3211 करोड़ रुपए में खरीदेगी ब्लैकस्टोन

एस्सेल प्रोपैक लेमिनेटेड ट्यूब बनाने वाली प्रमुख कंपनी, सालाना 7 अरब ट्यूब बनाती है
अमेरिकी फर्म ब्लैकस्टोन एस्सेल प्रोपैक के प्रमोटर अशोक गोयल से 51% शेयर खरीदेगी
139.19 रुपए प्रति शेयर के हिसाब 26% हिस्सेदारी खरीदने के लिए ओपन ऑफर लाएगी
मुंबई. अमेरिकी कंपनी ब्लैकस्टोन, एस्सेल प्रोपैक की कंट्रोलिंग शेयरहोल्डिंग 3,211 करोड़ रुपए में खरीदेगी। एस्सेल प्रोपैक एफएमसीजी और फार्मा कंपनियों में इस्तेमाल होने वाली लेमिनेटेड ट्यूब बनाने वाली देश की प्रमुख कंपनियों में से एक है।
अशोक गोयल से 134 रुपए के भाव पर शेयर खरीदेगी ब्लैकस्टोन
एस्सेल प्रोपैक के प्रमोटर अशोक गोयल के ट्रस्ट से ब्लैकस्टोन शेयर खरीदेगी। अशोक गोयल के ट्रस्ट के पास एस्सेल प्रोपैक के 57% शेयर हैं। इनमें से 51% शेयर 134 रुपए के भाव पर 2,157 करोड़ रुपए में खरीदे जाएंगे। 139.19 रुपए प्रति शेयर के हिसाब 26% अतिरिक्त हिस्सेदारी ओपन ऑफर के जरिए खरीदी जाएगी। इस तरह डील की कुल वैल्यू 3,211 करोड़ रुपए होगी।
डील के बाद अशोक गोयल एडवाइजर की भूमिका में रहेंगे
आने वाले कुछ महीनों में डील पूरी होने की उम्मीद है। इसके लिए रेग्युलेटरी मंजूरियां जरूरी होंगी। डील के बाद अशोक गोयल के पास एस्सेल प्रोपैक के सिर्फ 6% शेयर रह जाएंगे और वो सलाहकार की भूमिका में आ जाएंगे। इसके लिए उन्हें 5 साल तक सालाना 16 करोड़ रुपए मिलते रहेगे। गोयल फिलहाल कंपनी के एमडी हैं। एस्सेल प्रोपैक का बाकी सीनियर मैनेजमेंट नए मालिक के अधीन हो जाएगा।
डील से मिलने वाली रकम का इस्तेमाल एस्सेल वर्ल्ड में करेंगे
गोयल मुंबई के पहले मनोरंजन पार्क एस्सेल वर्ल्ड के मालिक भी हैं। उनका कहना है कि ब्लैकस्टोन के साथ डील से मिलने वाली रकम का इस्तेमाल एस्सेल वर्ल्ड के विस्तार में किया जाएगा। कुछ रकम चैरिटी के लिए भी इस्तेमाल की जाएगी।
एस्सेल प्रोपैक का 10 देशों में कारोबार
37 साल पुरानी एस्सेल प्रोपैक का 10 देशों में कारोबार है। इसके 3,150 कर्मचारी हैं। कंपनी सालाना 7 अरब लेमिनेटेड ट्यूब बनाती है। यह शेयर बाजार में लिस्टेड कंपनी है। सोमवार को कंपनी का शेयर बीएसई पर 1.26% गिरावट के साथ 132.65 रुपए पर बंद हुआ था।
बड़े भाई सुभाष चंद्रा से कारोबारी रिश्ते नहीं: अशोक गोयल
एस्सेल प्रोपैक के एमडी अशोक गोयल एस्सेल ग्रुप के प्रमोटर सुभाष चंद्रा के छोटे भाई हैं। 17,174 करोड़ रुपए के कर्ज में दबा एस्सेल ग्रुप वित्तीय मुश्किलें झेल रहा है। अशोक गोयल बड़े भाई सुभाष चंद्रा से कारोबारी रिश्ते होने की बात से इनकार करते हैं। गोयल का कहना है कि उन पर कोई कर्ज नहीं है और उन्होंने अपनी स्थिति का फायदा नहीं उठाया है। बड़े भाई और हम एक परिवार हैं और एक-दूसरे की चिंता करते हैं लेकिन, किसी तरह के वित्तीय या व्यावसायिक रिश्ते नहीं हैं। दोनों के बीच किसी तरह की क्रॉस होल्डिंग भी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *