Business

पिछले 11 में से 8 महीनों में यात्री वाहनों की बिक्री घटी, फरवरी में भी 1% की गिरावट आई

नई दिल्ली. देश में यात्री वाहनों विशेषकर कारों की बिक्री में गिरावट का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। इस साल फरवरी में कारों की बिक्री 4.33% घटकर 1,71,372 इकाई रह गई। वाहन निर्माता कंपनियों के शीर्ष संगठन सियाम के महानिदेशक विष्णु माथुर ने शुक्रवार को वाहन बिक्री के आंकड़े जारी करते हुए कहा कि चालू वित्त वर्ष में अब तक आठ महीने यात्री वाहनों की बिक्री में गिरावट दर्ज की जा चुकी है। पिछले साल के अक्टूबर महीने में यात्री वाहनों की बिक्री में बढ़ोतरी दर्ज की गई थी।
28% जीएसटी भी बिक्री को प्रभावित कर रही: माथुर

माथुर ने कहा कि बीएस4 मानक वाले डीजल वाहन दिल्ली में सिर्फ 10 साल तक चलाए जा सकते हैं। नए उत्सर्जन मानक वाले वाहनों के लिए यह अवधि अधिक होगी। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही यात्री वाहनों पर 28% जीएसटी भी बिक्री को प्रभावित कर रही है। उन्होंने कहा कि दुनिया के कहीं भी यात्री वाहनों पर इतना अधिक टैक्स नहीं है। उन्होंने कहा कि वाहनों की बिक्री में गिरावट के कई कारण हो सकते हैं। अगले वर्ष अप्रैल में उर्त्सजन का नया मानक बीएस-6 लागू होने वाला है। इसके साथ ही सुरक्षा के भी नए नियम लागू होंगे। इस कारण जो लोग वाहन खरीदने को कुछ समय के लिए टाल सकते हैं, वे नए नियमों के लागू होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। सियाम के अनुसार फरवरी 2018 में कुल 2,75,346 यात्री वाहनों की बिक्री हुई थी। इस साल फरवरी में 1.11% की गिरावट आई और 2,72,284 यात्री वाहन बिके। यूटिलिटी वाहनों की बिक्री में 3.70% और वैन की 10.74% बढ़ोतरी हुई। फरवरी 2018 में देश से 61,535 यात्री वाहन निर्यात किए गए थे, जो पिछले महीने 17.25% घटकर 50,923 रह गए।

स्कूटर और मोटरसाइकिल की बिक्री में भी गिरावट

दोपहिया वाहनों की बिक्री 4.22% कम हुई है। इनमें स्कूटरों की बिक्री 12.14% कम हुई है। फरवरी 2018 में 5,60,653 स्कूटर बिके थे। पिछले महीने 4,92,584 बिके हैं। मोटरसाइकिलों की बिक्री में 0.58% की कमी आई है। यह 10,53,596 से घटकर 10,47,486 रह गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.