Business

मंदी की आशंका से दुनिया में नौकरियों पर संकट…

वैश्विक मंदी की आशंका और लागत में कटौती से दुनियाभर में नौकरियों पर खतरा मंडरा रहा है। एपल, ट्विटर, अमेजन और मेटा समेत दिग्गज कंपनियां बड़ी संख्या में अपने कर्मचारियों को निकाल रही हैं। अब दिग्गज टेक कंपनी गूगल भी 10,000 कर्मचारियों की छंटनी की योजना बना रही है।द इन्फॉर्मेशन की रिपोर्ट के मुताबिक, गूगल अपनी बिगड़ती वैश्विक वित्तीय स्थिति की वजह से छह फीसदी या 10,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल सकती है। कंपनी उन कर्मचारियों की पहचान कर रही है, जिनका प्रदर्शन बेहतर नहीं रहा है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि गूगल ने टीम मैनेजर्स से नई रैंकिंग एवं प्रदर्शन सुधार योजना के तहत कर्मचारियों का आकलन करने को कहा है। इसके जरिये वह अगले साल की शुरुआत से कर्मचारियों को निकालेगी।इसके अलावा, मैनेजर्स को टीम के सदस्यों की रैंकिंग करने को कहा गया है। इस आधार पर ही तय होगा कि सदस्यों को बोनस व शेयर दिया जाएगा या नहीं। हालांकि, गूगल की मूल कंपनी अल्फाबेट ने इस संबंध में आधिकारिक पुष्टि नहीं की है।

पिचाई पहले ही दे चुके हैं संकेत

अल्फाबेट एवं गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने छंटनी को लेकर कुछ महीने पहले ही संकेत दिया था। उन्होंने कहा था कि कंपनी को 20 फीसदी अधिक दक्ष होना चाहिए। कंपनी के रूप में गूगल का मानना है कि जब आपके पास पहले की तुलना में कम संसाधन होते हैं तो आपको काम करने के लिए सही चीजों को प्राथमिकता देनी चाहिए। ऐसे में यह देखना पड़ता है कि क्या आपके कर्मचारी वास्तव में उत्पादक हैं।